दार्जिलिंग में घूमने की 6 खूबसूरत जगह

दार्जिलिंग में घूमने की 6 खूबसूरत जगह


दार्जिलिंग एक पूर्वोत्तर भारत का विश्व विख्यात हिल स्टेशन है जहां पर लोग अक्सर गर्मियों में जाते हैं गर्मियों में भी यहां पर आपको अच्छी खासी सर्दियां मिल जाएंगे तो अगर आप दार्जिलिंग जा रहे हैं तो गर्म कपड़े ले जाना ना भूलें।

         यह विश्वविख्यात पर्वतीय क्षेत्र भी है जो भारत देश के पश्चिम बंगाल राज्य में कंचनजंगा पर्वत के साए में बसा हुआ है। दार्जिलिंग को प्रकृति ने भरपूर प्राकृतिक संसाधनों से सजाया बजाया है यहां के मनोरम प्राकृतिक वातावरण और शीतल जलवायु के कारण हजारों की संख्या में यहां पर देश-विदेश से सैलानी खींचे हुए चले आते हैं शिवालिक पर्वत माला की वादियों में समुद्र तल से लगभग 2042 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ दार्जिलिंग पश्चिम बंगाल के शहर सिलीगुड़ी से 80 किलोमीटर ,न्यूजलपाईगुड़ी से 90 किलोमीटर और गंगटोक से 97 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।
दार्जिलिंग का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन न्यूजलपाईगुड़ी है यहां तक पहुंचने के लिए दिल्ली कानपुर पटना कोलकाता गुवाहाटी दिल्ली आदि जगहों से आपको ट्रेन में मिल जाएंगे।
                   


दार्जिलिंग में सड़क भी काफी अच्छी बनी हुई है न्यू जलपाईगुड़ी सिलीगुड़ी और गंगटोक से सीधी बस सेवा आपको दार्जिलिंग तक पहुंचा देगी इसके अलावा अगर आप अपने साधन टैक्सी से दार्जिलिंग जाना चाहते हैं तो आपको ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा आप बड़े ही आसानी से दार्जिलिंग जा सकते हैं।
                                दार्जिलिंग का सबसे निकटतम हवाई अड्डा बागडोगरा में बना हुआ है,जो दार्जिलिंग से 95 किलोमीटर की दूरी पर है दार्जिलिंग के लिए टॉय ट्रेन भी चलती है,जो पहाड़ियों के बीच से आपको दार्जिलिंग के पहाड़ों का आनंद लेते हुए आपको दार्जिलिंग तक पहुंचाएगी। अब बात करते हैं दार्जिलिंग के 6 सबसे खूबसूरत जगह जहां आपको जाना चाहिए-

#1 नाइटेंगल पार्क(Nightingale Park) - 

दार्जिलिंग के रिचमंड हिल(Richmond Hill) पर स्थित यह एक बहुत ही खूबसूरत पार्क है,जिसमें घूमते घूमते आप कई सारी पहाड़ियों के भी मजे ले पाएंगे।

        नाइटेंगल पार्क मध्य में एक म्यूजिकल पार्क भी लगा हुआ है,जहां पर आप शाम को काफी मजे ले सकते हैं,और आपको बहुत सारे मनमोहक नजारे देखने को मिलेंगे जिसमें बहुत सारे सैलानी दुनिया भर से आए हुए लोग आपको देखने को मिल जाएंगे।
                      यहां के मनमोहक दृश्य और वातावरण से आप अपनी सारी परेशानियों को भूल जाएंगे यहां पर ऐसे ऐसे फूल और मनमोहक दृश्य दिखाई देंगे जो आपके मन भा लेंगे।

#2 दार्जिलिंग रोपवे(Darjeeling ropeway) - 

दार्जिलिंग रोपवे आपको  मन मोह लेने वाले दृश्य दिखाएगा  दार्जिलिंग को भारत का सबसे सुंदर हिल स्टेशन माना जाता है, और भारत के सबसे सुंदर हिल स्टेशन के मजे लेने का सबसे अच्छा साधन है कि आप दार्जिलिंग के रोपवे पर सवार हो जाए और आसमान से दार्जिलिंग के पहाड़ियों खेतों झाड़ियों और सुंदर सुंदर  फूलों का मजा ले।
  .रोपवे में बैठकर आपको चाय के बागान बर्फ से ढकी हुई           पहाड़ियां दिख जाएंगी जो आपके मन मोह लेंगी।
   .जान लेते हैं इस रोपवे के बारे में यह भारत की पहली रोपवे हुए हैं।

#3 चौरस्ता(Chowrasta) -

दार्जिलिंग के माल रोड के पास चौरस्ता दार्जिलिंग की सबसे चहल-पहल वाली जगह है यहां पर काफी बड़ी खुली खुली जगह हैं जहां पर आपको कबूतरों के झुंड दाना चुनते हुए दिखे जाएंगे। जहां पर आपको बहुत सारे देश विदेश से आए हुए लोग उन कबूतरों के साथ फोटो खिंचवाते हुए दिख जाएंगे यह एक मन मोह लेने वाला दृश्य से होता है। चौरस्था के पास आप घुड़सवारी का भी आनंद ले सकते हैं जैसा कि आप जानते हैं दार्जिलिंग में चाय की खेती बहुत भारी मात्रा में होती है तो अगर आप चाय के दीवाने हैं तो यहां आपको बहुत ढेर सारी चाय की दुकानें मिल जाएंगे जहां पर आप चाय के मजे उठा सकते हैं

#4 टेनजिंग रॉक(Tenzing rock)-

दार्जिलिंग की पहाड़ियों को देखकर हो सकता है कि आपके मन में भी पर्वतारोही जाग जाए और आप पहाड़ों पर क्लाइंबिंग करने की सोचें तो आप सही सोच रहे हैं दार्जिलिंग में आपको पर्वतारोही बनने का पूरा मौका मिलेगा। तो आपको बता दूं कि तेनजिंग रॉक पर एक पहाड़ी है जहां पर कुशल प्रशिक्षकों की देखरेख में पर्वतारोहण की बारीकियां समझाई जाती है यह जगह पास ही मौजूद प्रख्यात हिमालयन माउंटेनियरिंग इंस्टीट्यूट(Himalayan mountaineering institute). 

#5 घूम मॉनेस्ट्री(Ghoom Monastery) -

दार्जिलिंग अपने बौद्ध मठों के लिए भी जाना जाता है, और घूम मॉनेस्ट्री यहां की सबसे पुरानी तिब्बत मॉनेस्ट्री है। केमिस्ट्री लगभग डेढ़ सौ 150 साल पुरानी है और इसके मध्य में एक मैत्री बुद्धा की एक 15 फीट ऊंची मूर्ति भी रखी हुई है जो इस बौद्ध मठ की शोभा में चार चांद लगाता है। यहां पर आपको रंग-बिरंगे झंडे भी देखने को मिलेंगे जिनकी बौद्ध धर्म बहुत मान्यता है और आपको हर मॉनेस्ट्री में यह झंडे देखने को मिल जायेंगे।

#6 पीस पगोड़ा(Peace pagoda)

पीस पगोड़ा यहां पर स्थित एक जापानी पीस पगोड़ा जो एक गुंबद जैसा स्ट्रक्चर वाली इमारत है इसके चारों ओर बुद्ध भगवान के चार रूप दर्शाए गए हैं ,यह इमारत इमारत सफेद कलर की पेंट की हुई है। यहां के द्वार सारे धर्मों के लिए खुले हैं और यहां पर दार्जिलिंग जाने वाला लगभग हर सैलानी इस जगह पर एक बार जरूर जाता है। यहां पर आपको काफी शांति मिलेगी और यहां पर आप ध्यान मुद्रा में बैठकर एक अभूतपूर्व शांति का अनुभव कर सकते हैं


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां